Connect with us

ख़बर देश

मौत की उमर क्या है? दो पल भी नहीं, ज़िन्दगी सिलसिला, आज कल की नहीं- अटल जी 

Published

on

मौत की उमर क्या है? दो पल भी नहीं,
ज़िन्दगी सिलसिला, आज कल की नहीं।

मैं जी भर जिया, मैं मन से मरूँ,
लौटकर आऊँगा, कूच से क्यों डरूँ?

मौत को चुनौती देते पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी की कविता ‘मौत से ठन गई’ की ये पक्तियां हमें उम्मीद देती हैं,कि अटल जी भले ही हमें आज छोड़कर चले गए, लेकिन वो फिर वापस आएंगे,आखिर वो वादा जो कर गए हैं। अनंत के सफर पर निकल गए अटलजी का जीवन कई उतार चढ़ावों से होकर गुजरा,चलिए डालते हैं, एक नजर उनके जिंदगी के सफर पर-

R.O. No. 12338/ 107

नन्हें अटल से लेकर नौजवान अटल का सफर

साधारण से असाधारण बनने का अटल जी का सफर शुरू हुआ, मध्यप्रदेश के ग्वालियर से,जहां 25 दिसंबर 1924 में पेशे से शिक्षक पंडित कृष्ण बिहारी वाजपेयी के घर अटल जी का जन्म हुआ। पिता कृष्ण बिहारी वाजपेयी शिक्षक के साथ ही हिंदी और बृज भाषा के जाने माने कवि भी थे, पिता से ही नन्हें अटल को विरासत में काव्य के गुण मिले।

ग्वालियर के विक्टोरिया कालेज(वर्तमान में लक्ष्मीबाई कालेज) से अटल जी ने बीए की शिक्षा प्राप्त की। छात्र जीवन से ही वो आरएसएस से जुड़ गए। कानपुर के डीएवी कालेज से राजनीति शास्त्र में एमए की शिक्षा प्राप्त की ।

राजनेता अटल जी

भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी भारतीय जनसंघ के संस्थापक सदस्यों में से एक थे। 1968 से 1973 तक वो इसके राष्ट्रीय अध्यक्ष भी रहे।

1955 में अटल जी ने पहली बार लखनऊ सीट से लोकसभा चुनाव लड़ा, लेकिन वो हार गए । सांसद के रूप में उनके राजनीतिक जीवन की शुरूआत हुई 1957 से, जब वो उत्तरप्रदेश के गोण्डा जिला की बलरामपुर सीट से जनसंघ के प्रत्याशी के रूप में विजयी होकर लोकसभा में पहुँचे। 1957 से 1977 में जनता पार्टी की स्थापना तक वो बीस वर्ष तक लगातार जनसंघ के संसदीय दल के नेता रहे। इमरजेंसी के बाद मोरारजी देसाई की सरकार में वो 1977 से 1979 तक विदेश मंत्री रहे।

Advertisement

1980 में जनता पार्टी से त्यागपत्र देकर भारतीय जनता पार्टी की संस्थापक सदस्यों में से एक बने। 1980 में ही बीजेपी के अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी अटल जी को मिली।

प्रधानमंत्री अटल जी 

आजादी के बाद देश के सबसे लोकप्रिय नेताओं में से एक अटल बिहारी वाजपेयी ने पहली बार 16 मई, 1996 को प्रधानमंत्री पद की शपथ ली, लेकिन बहुमत न होने के कारण उन्होंने 28 मई, 1996 को त्यागपत्र दे दिया। दूसरी बार 1998 के चुनावों में भी भाजपा लोकसभा में सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी और उन्होंने 19 मार्च 1998 को दूसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ ली। यह सरकार 13 महीने ही चली। इसके बाद अटल जी को तीसरी बार 13 अक्टूबर 1999 को प्रधानमंत्री बनने का अवसर मिला और उन्होंने अपना पांच वर्षो का कार्यकाल पूरा किया। लेकिन 2004 में अप्रत्याशित रूप से उनकी सरकार वापस सत्ता में नहीं लौट पाई ।

कवि,लेखक और पत्रकार अटल जी 

पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी ने पत्रकार के रूप में पाञ्चजन्य, राष्ट्रधर्म, दैनिक स्वदेश और वीर अर्जुन जैसे पत्र-पत्रिकाओं के संपादन का काम भी किया।

Advertisement

प्रकाशित रचनाएं :

अमर बलिदान, मृत्यु या हत्या, कैदी कविराय की कुडलियां, न्यू डाइमेंसन ऑफ फॉरेन पॉलिसीज, लोकसभा में अटल जी, अमर आग है, मेरी इक्यावन कविताएं, कुछ लेख, कुछ भाषण, राजनीति की रपटीली राहें, बिंदु-बिंदु विचार, सेक्युलरवाद, मेरी संसदीय यात्रा, सुवासित पुष्प, संकल्प काल, विचार बिंदु, शक्ति से शांति, न दैन्यं न पलायनम्, अटल जी की अमेरिका यात्रा, नई चुनौती : नया अवसर।

जब सम्मानित हुए अटल जी  

25 जनवरी, 1992 को उन्हें पद्मविभूषण से अलंकृत किया गया। 28 सितंबर, 1992 को उन्होंने उत्तर प्रदेश हिंदी संस्थान ने ‘हिंदी गौरव’ के सम्मान से सम्मानित किया। 20 अप्रैल 1993 को उन्हें कानपुर विश्वविद्यालय ने मानद डीलिट् की उपाधि प्रदान की। 1 अगस्त 1994 को वाजपेयी को ‘लोकमान्य तिलक सम्मान’ पारितोषिक प्रदान किया गया जो उनके सेवाभावी, स्वार्थत्यागी तथा समर्पणशील सार्वजनिक जीवन के लिए था। 17 अगस्त, 1994 को संसद ने उन्हें सर्वसम्मति से ‘सर्वश्रेष्ठ सांसद’ का सम्मान दिया। 2014 दिसंबर में उन्हें भारत रत्न से सम्मानित किया गया।

Advertisement

ख़बर देश

Parliament: संसद का विशेष सत्र 4 दिन में ही खत्म, महिला आरक्षण बिल राज्यसभा में भी पास

Published

on

Parliament: Special session of Parliament ends in 4 days, Women's Reservation Bill passed in Rajya Sabha also

Parliament: नारी शक्ति वंदन विधेयक 2023 (महिला आरक्षण बिल) गुरुवार को राज्यसभा में भी पास हो गया। सदन में उपस्थित सभी 214 सांसदों ने बिल का समर्थन किया और बिल पास हो गया। इसके बाद राज्यसभा और लोकसभा को अनिश्चित काल के लिए स्थगित कर दिया गया। केंद्र सरकार ने 18 से 22 सितंबर तक 5 दिन का विशेष सत्र बुलाया था। लेकिन नारी शक्ति वंदन विधेयक के दोनों सदनों में पास होने के बाद सत्र एक दिन पहले ही खत्म हो गया।

R.O. No. 12338/ 107

संसद का 4 दिन चला विशेष सत्र पूरी तरह नए संसद भवन और महिला आरक्षण बिल के नाम रहा। नारी शक्ति वंदन बिल (महिला आरक्षण बिल) नए संसद भवन में पास होने वाला पहला बिल बन गया। सत्र की शुरुआत संसद की पुरानी बिल्डिंग (नया नाम-संविधान सदन) से हुई। 19 सितंबर को गणेश चतुर्थी के दिन सत्र की कार्यवाही नए संसद भवन में शिफ्ट हो गई। इसी दिन लोकसभा में नारी शक्ति वंदन विधेयक (महिला आरक्षण बिल) संसद में पेश किया गया।

लोकसभा में 20 सितंबर को करीब 7 घंटे की चर्चा के बाद महिला आरक्षण बिल लोकसभा में पास हो गया। इसके पक्ष में 454 और विरोध में 2 वोट पड़े। 21 सितंबर को बिल को राज्यसभा में पेश किया गया और सदन में मौजूद सभी 214 सदस्यों ने महिला आरक्षण बिल के समर्थन किया। राज्यसभा में बिल पास होने के बाद अब इसे राज्यों की विधानसभाओं में भेजा जाएगा। आधी विधानसभाओं से पारित होने के बाद इसे राष्ट्रपति के पास भेजा जाएगा। राष्ट्रपति के हस्ताक्षर के बाद लोकसभा और विधानसभाओं की 33 फीसदी सीटें रिजर्व हो जाएंगी। हालांकि सीटों की संख्या के निर्धारण के लिए नई जनगणना और परिसीमन तक का इंतजार करना पड़ेगा।

Continue Reading

ख़बर देश

Parliament: नारी शक्ति वंदन विधेयक लोकसभा में पास, विरोध में पड़े सिर्फ 2 वोट

Published

on

Parliament: Nari Shakti Vandan Bill passed in Lok Sabha, only 2 votes were cast in opposition

LokSabha: संसद के विशेष सत्र के तीसरे दिन बुधवार 20 सितंबर को नारी शक्ति वंदन बिल (महिला आरक्षण बिल) पास हो गया। पर्ची से हुई वोटिंग में बिल के समर्थन में 454 और विरोध में सिर्फ 2 वोट पड़े। अब कल 21 सितंबर गुरुवार को ये बिल राज्यसभा में पेश किया जाएगा। इसमें कोई शक नहीं कि वहां भी यह आसानी से पास हो जाएगा। इसके बाद बिल को राष्ट्रपति की स्वीकृति के लिए भेजा जाएगा। राष्ट्रपति की स्वीकृति मिलते ही यह कानून बन जाएगा।

R.O. No. 12338/ 107

बता दें कि विशेष सत्र के दूसरे दिन और नए संसद भवन में गणेश चतुर्थी पर कामकाज शुरू होने के पहले दिन 19 सितंबर को ‘नारी शक्ति वंदन विधेयक’ को लोकसभा में पेश किया गया। बिल के मुताबिक, लोकसभा और राज्यों की विधानसभाओं में महिलाओं के लिए 33% आरक्षण लागू किया जाएगा। वर्तमान आंकड़ों के हिसाब से लोकसभा की 543 सीटों में सेे 181 सीटें 15 साल के लिए महिलाओं के लिए आरक्षित होंगी। संसद चाहेगी, तो इस समय सीमा को आगे भी बढ़ा सकती है।

लोकसभा में बिल पर चर्चा के दौरान 60 सांसदों ने अपने विचार रखे। गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि- ‘सामान्य, एससी, एसटी सभी पर समान रूप से यह आरक्षण लागू होगा। चुनाव के तुरंत बाद ही जनगणना और परिसीमन होगा और महिलाओं की भागीदारी सदन में बढ़ेगी। विरोध करने पर आरक्षण जल्दी नहीं आएगा।’

नारी शक्ति वंदन बिल (महिला आरक्षण बिल) के लागू होने में जो सबसे बड़ा रोड़ा है, वो है कि यह परिसीमन (डीलिमिटेशन) के बाद ही लागू होगा। परिसीमन के लिए जनगणना के पूरा होने तक इंतजार करना पड़ेगा। फिलहाल जो हालात हैं उसमें 2024 के लोकसभा चुनावों से पहले जनगणना और परिसीमन पूरा हो पाना नामुमकिन तो नहीं, लेकिन इतना आसान भी नहीं है।

Continue Reading

ख़बर देश

Anantnag: कोकरनाग क्षेत्र में 146 घंटे बाद एनकाउंटर खत्म, उजैर खान समेत दो आतंकी ढेर

Published

on

Anantnag: Encounter ends after 146 hours in Kokarnag area, two terrorists including Uzair Khan killed

Anantnag: जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले के कोकरनाग क्षेत्र में पहाड़ी पर एक गुफा में छिपे आतंकियों के साथ सुरक्षाबलों की करीब सात दिनों चली मुठभेड़ खत्म हो गई है। ऑपरेशन गडूल करीब 146 घंटे तक चला और इसे हाल के वर्षों में सबसे लंबा ऑपरेशन कहा जा रहा है। इस ऑपरेशन में लश्कर आतंकी उजैर खान का मार गिराया गया। जबकि एक आतंकी का जला हुआ शव मिला है। उसकी अभी पहचान नहीं हुई है। इस ऑपरेशन की शुरुआत में ही कर्नल मनप्रीत सिंह, मेजर आशीष ढोंचक और जम्मू कश्मीर पुलिस के डीएसपी हुमायूं भट शहीद हो गए थे। जबकि बाद में एक और सेना के जवान प्रदीप सिंह की शहादत हुई थी। बताया जा रहा है कि सुरक्षाबलों का बड़े क्षेत्र में  सर्चिंग ऑपरेशन अब भी जारी है।

R.O. No. 12338/ 107

Continue Reading

ख़बर देश

JK News: अनंतनाग में सेना का ऑपरेशन 7वें दिन भी जारी, एक और शहीद जवान का शव मिला

Published

on

JK News: Army operation continues on 7th day in Anantnag, body of another martyred soldier found

JK News: जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग में आतंकियों के खिलाफ अब तक का सबसे लंबा ऑपरेशन 7वें दिन भी जारी है। अनंतनाग के गडोल पहाड़ी और फॉरेस्ट एरिया में एक गुफा में छिपे आतंकियों को सेना ने चारों तरफ से घेर रखा है। ऑपरेशन के दौरान एक और जवान का शव मिलने से शहीद जवानों की संख्या बढ़कर 4 हो गई है। शहीद जवान प्रदीप सिंह 13 सितंबर को गोलीबारी शुरू होने के बाद से ही लापता थे। उनका शव 18 सितंबर की शाम 5 बजे कोकेरनाग मुठभेड़ स्थल से मिला। बता दें कि इससे पहले अनंतनाग ऑपरेशन में कर्नल मनप्रीत सिंह, मेजर आशीष धोंचक और जम्मू-कश्मीर पुलिस के डीएसपी हुमायूं मुजामिल भट्ट अपनी शहादत दे चुके हैं।

R.O. No. 12338/ 107

ऑपरेशन स्थल से एक और शव बरामद

सुरक्षाबलों को मुठभेड़ स्थल से जली हालत में एक शव मिला है। फिलहाल जले हुए शव की पहचान नहीं हुई है। इस कारण शव का डीएनए टेस्ट कराया जा सकता है। ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि बरामद हुआ शव किसी आतंकी का हो सकता है। सेना और आतंकियों के बीच अभी भी रुक-रुक कर गोलीबारी हो रही है। सेना के अफसरों के मुताबिक सर्चिंग ऑपरेशन अब भी जारी है। सेना ने तलाशी का दायरा पास के जंगलों और गांवों तक फैला दिया है। ऑपरेशन में ड्रोन और हेलिकॉप्टर को भी लगाया गया है।

Continue Reading

ख़बर देश

Special Parliament Session: संसद का विशेष सत्र शुरू, पीएम मोदी बोले- ऐतिहासिक निर्णयों का ये सत्र है

Published

on

Special session of Parliament begins, PM Modi said - this is a session of historic decisions

Special Parliament Session Live: संसद का विशेष सत्र आज शुरू हो गया। संसद के पुराने भवन में संसदीय कार्यवाही का आज आखिरी दिन है। 22 सितंबर तक चलने वाले विशेष सत्र के पहले दिन को छोड़कर बाकी दिन की कार्यवेाही नए संसद भवन में होगी। मंगलवार 19 सितंबर को गणेश चतुर्थी के दिन से संसद की कार्यवाही नए संसद भवन में होगी। पीएम मोदी ने आज सुबह संसद की कार्यवाही शुरू होने से पहले प्रेस से बातचीत के दौरान चंद्रयान-3 मिशन पर कहा कि, ‘भारत के लिए यह गौरव का विषय है। चंद्रयान-3 मिशन नई प्रेरणा का स्रोत बना। भारत चांद पर भी तिरंगा फहरा रहा है। शिव शक्ति पॉइंट भारत के लिए प्रेरणा का केंद्र बना है।’

R.O. No. 12338/ 107

प्रधानमंत्री ने जी-20 आयोजन पर भी बात की। उन्होंने कहा कि ‘जी-20 समिट की अभूतपूर्व सफलता देश के लिए गर्व का विषय है। पूरे विश्व में इस प्रकार की उपलब्धि को आधुनिकता, विज्ञान और तकनीक से जोड़कर देखा जाता है और जब ये सामर्थ्य विश्व के सामने आता है, तो अनेक संभावना, अनेक अवसर हमारे दरवाजे पर आकर खड़े हो जाते हैं। अफ्रीकन यूनियन को स्थायी सदस्यता और सर्वसम्मति से G20 का डिक्लेरेशन, ये सारी बातें भारत के उज्ज्वल भविष्य का संकेत दे रही हैं।’

ऐतिहासिक निर्णयों वाला होगा विशेष सत्र

प्रधानमंत्री मोदी ने प्रेस से बातचीत में कहा कि इस समय पूरे देश में उत्साह और उमंग का माहौल है। हम एक नए आत्मविश्वास को महसूस कर रहे हैं। उसी समय संसद का विशेष सत्र हो रहा है। उन्होंने कहा कि ये सत्र छोटा जरूर है, लेकिन समय के हिसाब से बहुत बड़ा है। प्रधानमंत्री ने कहा कि ये सत्र ऐतिहासिक निर्णयों का है। प्रधानमंत्री ने कहा कि 2047 तक देश को विकसित करना है, इसके लिए जितने भी निर्णय होने वाले हैं, वो नए संसद भवन में होंगे। पीएम मोदी ने कहा कि मैं सभी आदरणीय सांसदों से आग्रह करता हूं कि छोटा सत्र है। वो उमंग और उत्साह के साथ अपना ज्यादा से ज्यादा समय यहां दें।”

प्रधानमंत्री के संबोधन से हुई सत्र की शुरूआत

विशेष सत्र की शुरूआत प्रधानमंत्री के संबोधन से हुई। पीएम मोदी ने भारत के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू से लेकर मनमोहन सिंह तक की सराहना करते हुए लोकतंत्र को मजबूत करने के लिए उनके योगदान को याद किया। प्रधानमंत्री ने कहा कि हम सब इस ऐतिहासिक भवन से विदा ले रहे हैं। आजादी से पहले ये सदन काउंसिल का स्थान हुआ करता था। आजादी के बाद इस भवन को संसद भवन की पहचान मिली। ये सही है कि इस इमारत का निर्माण करने का फैसला विदेशी शासकों का था, लेकिन इसके निर्माण में पसीना, परिश्रम और पैसा मेरे देशवासियों के लगे थे।

Advertisement
Continue Reading

ख़बर उत्तर प्रदेश

UP News: Supreme Court rejected the petition demanding scientific survey of Shri Krishna Janmabhoomi, said- High Court should take the decision UP News: Supreme Court rejected the petition demanding scientific survey of Shri Krishna Janmabhoomi, said- High Court should take the decision
ख़बर उत्तर प्रदेश5 hours ago

UP News: श्रीकृष्ण जन्मभूमि के वैज्ञानिक सर्वे की मांग वाली याचिका सुप्रीम कोर्ट ने की खारिज, कहा- हाईकोर्ट ले फैसला

UP News(Mathura): सुप्रीम कोर्ट ने मथुरा की श्रीकृष्ण जन्मभूमि में वैज्ञानिक सर्वे कराने की मांग वाली याचिका को खारिज कर...

Ayodhya: Accused of molesting female constable in Saryu Express killed in encounter, 2 others injured Ayodhya: Accused of molesting female constable in Saryu Express killed in encounter, 2 others injured
ख़बर उत्तर प्रदेश10 hours ago

Ayodhya: सरयू एक्सप्रेस में महिला आरक्षी से छेड़छाड़ का आरोपी एनकाउंटर में ढेर, 2 अन्य घायल

Ayodhya: यूपी एसटीएफ और अयोध्या पुलिस ने सावन मेले के दौरान सरयु एक्सप्रेस में महिला मुख्य आरक्षी के साथ छेड़छाड़ और...

UP News: BJP changed the district presidents of 69 out of its organizational 98 districts UP News: BJP changed the district presidents of 69 out of its organizational 98 districts
ख़बर उत्तर प्रदेश1 week ago

UP News: भाजपा ने अपने संगठनात्मक 98 जिलों में से 69 के जिलाध्यक्ष बदले, फेरबदल में दिखी सोशल इंजीनियरिंग की झलक

UP News(Lucknow): उत्तरप्रदेश में भारतीय जनता पार्टी ने संगठन में कसावट लाने के लिए अपने संगठनात्मक 98 जिलों में से 69...

UP News: A new industrial city will be established near Jhansi on the lines of Noida, 35 thousand acres of land will be acquired UP News: A new industrial city will be established near Jhansi on the lines of Noida, 35 thousand acres of land will be acquired
ख़बर उत्तर प्रदेश1 week ago

UP News: नोएडा की तर्ज पर झांसी के पास बसेगा नया ओद्योगिक शहर, 35 हजार एकड़ जमीन का होगा अधिग्रहण

UP News(Lucknow): मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में आज लोकभवन में कैबिनेट की बैठक हुई। इसमें कई महत्वपूर्ण फैसलों पर कैबिनेट...

UP News: Rs 22 lakh looted from ATM cash van in Mirzapur,guard shot dead UP News: Rs 22 lakh looted from ATM cash van in Mirzapur,guard shot dead
ख़बर उत्तर प्रदेश1 week ago

UP News: मिर्जापुर में ATM कैश वैन से दिनदहाड़े 22 लाख की लूट, गार्ड की गोली लगने से मौत

UP News (Mirzapur ATM Van Robbery): उत्तरप्रदेश के मिर्जापुर शहर में दो बाइक पर सवार चार बदमाशों में मंगलवार दोपहर...

Advertisement

अभी तक की बड़ी खबरें

WEBSITE PROPRIETOR & EDITOR DETAILS

Editor/ Director :- Somesh Singh Senger
Web News Portal: Khabritaau.com
Website : www.khabritaau.com
Company : Khabritaau News
Publication Place: Raipur (CG), Bhopal (MP) & Lucknow (UP)
Email:- khabritaau@gmail.com
Mob: +91 6264 084 601

Trending